भेलाही-छौड़ादानो नहर पथ वर्षो से जर्जर

46


छौड़ादानो भेलाही- नहर पथ वर्षो से जर्जर हो चुका है। इस सड़क पर सैकड़ों तालाबनुमा गड्ढे बन चुके हैं। जिनमें बरसात के दिनों में पानी भर जाता है। ऐसे में इस सड़क पर चलना तालाब में चलने जैसा मालूम होता है। लोग इस पथ पर प्रतिदिन अपनी जान हथेली पर रख सफर कर रहे हैं। इतना ही नहीं सड़क तो जर्जर हो चुकी है। इस रूट से चलने वाले वाहन भी खटारा हैं। सरकार एक तरफ वाहन अधिनियम को सख्ती से लागू कर रही है। लेकिन, इस रूट पर इसका असर नहीं दिख रहा है। अनुमंडल क्षेत्र के आदापुर, छौड़ादानो व बनकटवा प्रखंड सहित नरकटिया विधान सभा क्षेत्र के लोगों का अनुमंडल मुख्यालय पहुंचने का मुख्य मार्ग है। वर्षो से इस सड़क के निर्माण की कवायद चल रही है। जो अभीतक अधूरा है। आश्वासन पर आश्वासन लेकिन, निर्माण की प्रक्रिया अभी तक शुरू नहीं होने से लोगों में आक्रोश है।
तारीख पर तारीख लेकिन निर्माण शुरू नहीं प्रखंड क्षेत्र के पूर्व मुखिया अनिल दुबे, लालबाबू सिंह, सरोज प्रसाद यादव, तेजबहादूर प्रसाद, उमेश चौरसिया, मुन्ना मिश्रा, हरेंद्र पटेल, शंभू पटेल, कामेश्वर पटेल, नंदलाल कुशवाहा आदि ने कहा कि सरकार के अधिकारी व जनप्रतिनिधि तारिख पर तारीख देते रहे है। लेकिन, निर्माण की प्रक्रिया अभीतक शुरू नहीं हो सकी है। निर्माण के संबंध में जब भी जानकारी लेने का प्रयास किया जाता है अधिकारी व जनप्रतिनिधि आश्वासन देकर निकल जाते है। इससे लोगों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है। इसके लिए लोग चरणबद्ध आंदोलन करने की बात कर रहे है। यह समस्या विकराल हो चुकी है। प्रतिदिन दर्जनों वाहन सड़क पर पानी में फंसकर खराब हो जा रहे है। छोटे वाहनों को लेकर पथ से चलना मुश्किल हो गया है।
खंड सहित जिला मुख्यालय को जोड़ती है सड़क अनुमंडल क्षेत्र के आदापुर, छौड़ादानो व बनकटवा प्रखंड सहित नरकटिया विधानसभा क्षेत्र के लोगों के आवागमन का मुख्य मार्ग है। लोकसभा चुनाव से पूर्व इस सड़क के निर्माण की आधारशिला रखी गई थी। लेकिन अभीतक निर्माण कार्य शुरू नहीं हो सका है। यह सड़क रक्सौल से पूरब के गांवों को जोड़ती हुई बंजरिया प्रखंड के विभिन्न गांवों को जोड़ती हुई जिला मुख्यालय को जाती है। इस रूट पर करीब एक दर्जन से अधिक बसें चलती है। वहीं आदापुर व छौड़ादानो सहित घोड़ासहन के लिए छोटे-बड़े वाहन इसी पथ से आते-जाते है। लेकिन सड़क निर्माण क्यों नहीं हो रहा है क्षेत्र के बच्चे, नौजवान से लेकर बुजुर्ग के लिए पहेली बन गया है। इसको लेकर लोगों में जिज्ञासा बनी हुई है कि आखिर इस सड़क का निर्माण कब से शुरू होगा।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.