आदापुर के ग्रामीण की हत्या कर पिपरा में राजमार्ग के किनारे शव फेंका

19


मोतिहारी । जिले के आदापुर थाना अंतर्गत आंध्रा गांव निवासी शेख असहाबुल्लाह (45) की हत्या कर बदमाशों ने उसका शव थाना क्षेत्र के चिंतामनपुर गांव के समीप राजमार्ग किनारे स्थित एक तालाब पर फेंक दिया। स्थानीय पुलिस ने ग्रामीणों की सूचना पर शव बरामद कर जांच पड़ताल शुरु कर दी है। थानाध्यक्ष मुकेश कुमार ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल मोतिहारी भेज दिया गया है। हत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो सका है। पुलिस के अनुसार प्रथम दृष्टया हत्या अन्यत्र कर शव को छिपाने की नीयत से यहां लाकर फेंक देने का मामला प्रतीत होता है। असहाबुल्लाह के कनपटी व सिर के पिछले भाग में जख्म के निशान मिले हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार शेख असहाबुल्लाह 17 जनवरी को सप्तक्रांति एक्सप्रेस ट्रेन से नई दिल्ली से मोतिहारी के लिए चला था। 18 जनवरी की सुबह 10:45 बजे मोतिहारी स्टेशन उतरने पर उसने परिजनों से फोन पर बातचीत की। उसके बाद उसका सेलफोन स्विच ऑफ हो गया। इसी बीच रविवार को पीपरा के चिंतामनपुर गांव स्थित तालाब से पुलिस ने उसका शव बरामद किया। मृतक के भतीजा तबरेज अनवर ने बताया कि उनके अंकल सरल व विनम्र स्वभाव के थे। संभव है कि लूट के बाद हत्या की घटना को अंजाम दिया गया हो। हालांकि शेख असहाबुल्लाह के पास नकद रुपये अधिक नहीं थे। वह घर आने से पहले रुपये को खाता में डाल कर चला था। मृतक के निकट सम्बन्धी का घर छतौनी चौक के समीप है। ट्रेन से उतरकर वह वहां भोजन करने के लिए ऑटो गाड़ी से चला था। लेकिन, संध्या तक जब वह उस जगह पर या फिर गांव नहीं पहुंचा तो परिजनों की चिता बढ़ने लगी। इस क्रम में 11 बजे दिन से ही उसका फोन ऑफ मिलने लगा। थक-हार कर परिजनों ने शनिवार की संध्या में छतौनी पुलिस को आवेदन देकर घटना से अवगत कराया था। पुलिस मामले में कुछ करती कि तब तक देर हो चुकी थी।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.